India Coming Together Against COVID-19 (Hindi)
  • Home/
  • Coronavirus से लड़ने के लिए नौसेना ने तैयार की ये स्पेशल गन, जानिए इसकी कीमत और खासियत

Coronavirus से लड़ने के लिए नौसेना ने तैयार की ये स्पेशल गन, जानिए इसकी कीमत और खासियत

Coronavirus से लड़ने के लिए नौसेना ने तैयार की ये स्पेशल गन, जानिए इसकी कीमत और खासियत
भारतीय नौसेना ने इस गन को तैयार किया है.

Highlights

  1. दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर जारी
  2. 45 हजार से ज्यादा लोगों की हो चुकी है मौत
  3. भारत में संक्रमितों का आंकड़ा 2300 के पार
मुंबई: 

दिखने में आपको भले ही यह सामान्य पिस्टल लग रही हो लेकिन कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ लड़ाई में यह गन काफी अहम है. इस गन को नौसेना (Navy) ने बनाया है. मुंबई के नेवल डॉक्यार्ड ने लोगों के शरीर के तापमान की जांच करने के लिए यह सेंसर तकनीक से लैस गन तैयार की है. यह थर्मल गन इतनी सटीक है कि शरीर का तापमान 0.02 डिग्री तक को यह माप सकती है. यह इंफ्रारेड तकनीक वाली गन कोरोना की जांच के लिए काफी असरदार है.

इस गन में एक एलईडी डिस्पले और एक माइक्रो कंट्रोलर भी लगा है, जो 9 वोल्ट की बैटरी से चलता है. सबसे बड़ी बात है इसकी कीमत भी ज्यादा नहीं है. इसकी कीमत मात्र 1000 रुपये है. बाजार में इस क्वालिटी की गन की कीमत 8 हजार से लेकर 20 हजार रुपये तक है. नौसेना की पश्चिमी कमान के 285 साल पुराने नेवल डॉक्यार्ड में रोजाना करीब 20 हजार लोग आते हैं. अब इस गन के आने के बाद वहां हर आने वाले की जांच की जा रही है और अगर तापमान सही पाया जाता है, तभी उसकी इंट्री डॉक्यार्ड में हो पाती है. वैसे फिलहाल यह गन बाजार में आपको नहीं मिलेगी लेकिन अगर डिमांड हो तो नौसेना की जरुरत पूरा करने के बाद नेवल डॉक्यार्ड आम लोगों के लिए भी इसे बना सकता है.

b084n9u8

Madhya Pradesh: कोरोना संक्रमण फैलाने के आरोप में देवास और आगर-मालवा जिले में 23 गिरफ्तार

बताते चलें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कोरोना वायरस से लड़ाई को लेकर एक वीडियो संदेश के जरिए 130 करोड़ भारतीयों को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा, 'कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ देशव्यापी लॉकडाउन को आज 9 दिन हो रहे हैं. इस दौरान आप सभी ने अनुशासन और सेवाभाव, दोनों का जो परिचय दिया है, वो अभूतपूर्व है.' पीएम मोदी ने अपने संबोधन में देशवासियों से 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों के दरवाजों या बालकनी में आकर दीया, मोमबत्ती, टॉर्च या फिर मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने का आग्रह किया है. पीएम ने कहा कि इस दौरान लोग अपने घरों की लाइटें बंद कर दें.

कोरोना से जंग के लिए टाटा समूह ने की 1500 करोड़ की घोषणा, तो बिग बॉस के एक्स कंटेस्टेंट बोले- महापुरुष खड़े होकर...

पीएम ने आगे कहा, 'ये लॉकडाउन का समय जरूर है, हम अपने-अपने घरों में जरूर हैं, लेकिन हम में से कोई अकेला नहीं है. 130 करोड़ देशवासियों की सामूहिक शक्ति हर व्यक्ति के साथ है. हमारे यहां माना जाता है कि जनता जनार्दन, ईश्वर का ही रूप होती है, इसलिए जब देश इतनी बड़ी लड़ाई लड़ रहा हो, तो ऐसी लड़ाई में बार-बार जनता रूपी महाशक्ति का साक्षात्कार करते रहना चाहिए. हमें निरंतर प्रकाश की ओर जाना है, जो इस कोरोना संकट से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं, हमारे गरीब भाई-बहन, उन्हें कोरोना संकट से पैदा हुई निराशा से आशा की तरफ ले जाना है.'

VIDEO: जो कोरोना को पराजित कर चुके हैं आज हमें उनसे प्रेरणा लेनी है : PM मोदी

Share this story on

Coronavirus से लड़ने के लिए नौसेना ने तैयार की ये स्पेशल गन, जानिए इसकी कीमत और खासियत

न्यूज़रूम से

  • बिहार में कोरोना के करीब 8 हजार नए मामले आए, एक चौथाई मरीज सिर्फ पटना में मिले
    Saturday April 17, 2021 , पटना

    बिहार में अबतक कोरोना वायरस की चपेट में आने वालों की कुल संख्या बढ़कर 3,15,427 हो गई है.बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण से जिन 34 मरीजों की मौत हुई.

  • गुरुग्राम में Remdesivir इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश
    Reported by Mukesh Singh Sengar | Saturday April 17, 2021 , नई दिल्ली

    Coronavirus: गुरुग्राम (Gurugram) ड्रग विभाग ने शनिवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया. यह गिरोह 4000 रुपये के इंजेक्शन को 25000 रुपये में बेच रहा था. कालाबाजारी करने वाले गिरोह के 3 लोगों को ड्रग विभाग ने रंगेहाथों पकड़ा. पकड़े गए तीन में से दो आरोपी गुरुग्राम के निजी मेडिकल स्टोर पर काम करते हैं. 

  • लॉकडाउन : नाकाबंदी में भीड़ कम करने के लिए मुंबई पुलिस ने नया तरीका ढूंढा
    Reported by Sunil Singh | Saturday April 17, 2021 , मुंबई

    Mumbai Coronavirus: कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लॉकडाउन के दौरान नाकाबंदी और चेकनाकों पर हो रही भीड़ को कम करने के लिए मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने नया तरीका ढूंढ निकाला है. कर्फ्यू के दौरान छूट वाले निजी वाहनों पर अब कलर स्टिकर लगेंगे. मुंबई के सीपी हेमंत नागराले ने इस बारे में निर्देश दिए हैं.

  • दिल्ली में कोरोना संक्रमण का नया रिकॉर्ड, एक दिन में 24,375 नए मामले; 167 की मौत
    Reported by Sharad Sharma, Edited by Suryakant Pathak | Saturday April 17, 2021 , नई दिल्ली

    Delhi Coronavirus Update: दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण ने नया रिकॉर्ड बना लिया है. यह रिकॉर्ड एक दिन में सबसे ज्यादा नए संक्रमण के मामले और सबसे ज्यादा मौतों का बना है. दिल्ली में शनिवार को समाप्त 24 घंटों में कोविड संक्रमण के 24,375 नए मामले सामने आए हैं जो कि अब तक के सबसे ज्यादा मामले हैं. इन 24 घंटों में 167 मरीजों की मौत हुई है जो कि अब तक एक में हुई मौतों का सबसे बड़ा आंकड़ा है. पॉजिटिविटी रेट 24% के पार हो गया है जि कि जून के बाद सबसे अधिक है. दिल्ली में अब कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या करीब 70,000 है जो कि अब तक की सबसे बड़ी संख्या है.

  • रेमडेसीविर इंजेक्शन की कमी से परेशान लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन
    Reported by Sohit Rakesh Mishra, Edited by Suryakant Pathak | Sunday April 18, 2021 , मुंबई

    Maharashtra Coronavirs: महाराष्ट्र के अहमदनगर में रेमडेसीविर (Remdesivir) इंजेक्शन नहीं मिलने से परेशान कोरोना संक्रमित मरीजों के रिश्तेदारों ने कलेक्टर के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करके अपना विरोध दर्ज कराया. लोगों को रेमडेसीविर इंजेक्शन के लिए कई बार चक्कर लगाने पड़ रहे हैं और कई दिनों तक इंतज़ार करना पड़ रहा है. कई दिनों से रेमडेसीविर इंजेक्शन की कमी झेल रहे अहमदनगर में लोगों ने प्रशासन के समक्ष अपनी नाराजगी ज़ाहिर की. अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही बाज़ार में कहीं भी रेमडेसीविर इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है. इसके विरोध में लोग सड़कों पर बैठकर प्रदर्शन करते नज़र आए.

  • दिल्ली : Remdesivir इंजेक्शन के अलावा कोरोना की अन्य दवाओं की भी किल्लत
    Reported by Saurabh Shukla, Edited by Suryakant Pathak | Saturday April 17, 2021 , नई दिल्ली

    Delhi Coronavirus: देश में रोजाना कोरोना वायरस के दो लाख से ज़्यादा मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में Remdesivir इंजेक्शन की तो भारी कमी है ही साथ ही साथ कोरोना के इलाज के लिए ज़रूरी दूसरी दवाइयां भी नहीं मिल रही हैं. लोग Fabiflu और Ivermectin जैसी दवाओं के लिए दर-दर भटक रहे हैं.